• Wed. Nov 30th, 2022

Meal Plans – Popular Recipes | dinnermake.com

Using weekly meal plans is a great way to save money and cook healthier

इन 4 क्रिकेटरों ने अपनी ही कजिन बहनो के साथ कि शादी, एक कपल के है 5 बच्चे….

ByDinner Recipes

Aug 12, 2022

आजकल क्रिकेटर्स के लव अफेयर्स और शादी के बारे में जानने के लिए फैंस उत्सुक रहते हैं. इनमें कई क्रिकेट खिलाड़ियों की शादियां अनूठी हैं, क्योंकि उन्होंने अपनी ही कजिन बहन को अपनी दुल्हन बना लिया था. 4 क्रिकेटर ऐसे हैं

जिन्होंने प्यार के आगे रिश्तेदारी को भी नहीं देखा और अपनी कजिन बहन से ही शादी कर ली. इस लिस्ट में बड़े-बड़े नाम शामिल हैं. आइए एक नजर डालते हैं ऐसे ही कुछ क्रिकेटर्स पर, जिन्होंने अपनी ही कजिन बहन से शादी रचाई है.

शाहिद और नादिया

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने 20 साल की उम्र में अपने मामा की बेटी नादिया के साथ निकाह किया था. तब से वे करीब 19 वर्षों से एक साथ हैं. नादिया बहुत ही रिर्जव्ड हैं, जिनको कभी भी शाहिद के साथ मैच के दौरान नहीं देखा गया. शाहिद अफरीदी ने साल 22 अक्टूबर 2000 में नादिया से शादी की थी. ये उनकी रिश्ते में ममेरी बहन लगती हैं. नादिया, शाहिद अफरीदी के सगे मामा की बेटी हैं. शाहिद और नादिया अक्सा, अंशा, अजवा, असमारा और अरवा नाम की 5 बेटियों के माता-पिता हैं.

मुस्तफिजुर रहमान और सामिया परवीन

बांग्लादेश के तेज गेंदबाज मुस्तफिजुर रहमान भी अपनी चचेरी बहन और मनोविज्ञान की पढ़ाई कर रहीं सामिया परवीन शिमू से विवाह बंधन में बंध गए थे. उनकी शादी साल 2019 मार्च माह में हुई थी.

मोसद्देक हुसैन और शरमीन समीरा

बांग्लादेश क्रिकेट टीम के युवा क्रिकेटर मोसद्देक हुसैन ने भी साल 2012 में अपनी चचेरी बहन शरमीन समीरा से शादी कर ली. मोसद्देक हुसैन अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर भी सुर्खियों में रहे. उन पर पत्नी को दहेज के लिए परेशान करने का आरोप था. इस मामले की वजह से मोसद्देक को टीम से अपना स्थान भी गंवाना पड़ा.

सईद अनवर और लुबना

1996 में पाकिस्तानी क्रिकेटर सईद अनवर ने अपनी चचेरी बहन लुबना से शादी रचाई थी. लुबना पेशे से एक डॉक्टर हैं. संयोगवश यह वही साल था जब सईद टेस्ट क्रिकेट मैदान में अपना बेहतर खेल दिखा रहे थे. अनवर अपनी जिंदगी में खुशी के पलों का आनंद ले रहे थे कि अचानक 2001 में उनकी बेटी की असामयिक मौत हुई और इसके बाद वह बुरी तरह टूट गए. यह खिलाड़ी अपने खेल को जारी नहीं रख पाया और 2003 वर्ल्ड कप के बाद रिटायर हो गया.