• Wed. Nov 30th, 2022

Meal Plans – Popular Recipes | dinnermake.com

Using weekly meal plans is a great way to save money and cook healthier

विवादों से लेकर तीन शादी तक, एक दम फिल्मी रही संजय दत्त की जिंदगी, जानें खास बातें

ByDinner Recipes

Jul 29, 2022

29 जुलाई 1959 को अभिनेता सुनील दत्त और अभिनेत्री नर्गिस के घर में संजय दत्त (Sanjay Dutt) का जन्म हुआ था। आज संजय दत्त अपना 63वां जन्मदिन मना रहे हैं। बात चाहें प्रोफेशनल लाइफ की रही हो यो फिर पर्सनल लाइफ की, संजय दत्त का विवादों और परेशानियों से हमेशा पाला पड़ता रहा और हर बार वो उससे जीतकर आगे बढ़े। जन्मदिन के खासे मौके पर आपको बताते हैं संजय दत्त के बारे में कुछ खास बातें…

विवादों में फंसे रहे संजय दत्त
संजय दत्त की पढ़ाई कसौली के पास लॉरेंस स्कूल, सनावर में हुई। 1981 में फिल्म रॉकी के प्रीमियर से तीन दिन पहले ही संजय दत्त की मां नर्गिस ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया। संजय दत्त को इसका गहरा सदमा लगा था, जिसके बाद अगले साल ड्रग्स लेने की वजह से उन्हें पांच महीने की जेल और अमेरिका के नशा मुक्ति केंद्र में दो साल रहकर ड्रग्स से पीछा छुड़ाने के बाद वापस लौटकर बॉलीवुड में वापसी की।

साल 1993 भी संजय दत्त के लिए काफी विवादों भरा साबित रहा जब जब मुंबई बम धमाकों की जांच के दौरान संजय दत्त पर हथियार रखने का आरोप लगा। तब एक बार फिर संजय दत्त को जेल में वक्त बिताना पड़ा। संजय दत्त की इमेज बैड ब्वॉय की बन गई थी, जिसे फिल्म मुन्ना भाई ने बदला। बता दें कि संजय दत्त की जिंदगी पर आधारित फिल्म संजू में उनके जीवन को दिखाया गया है, जिस में रणबीर कपूर ने लीड रोल निभाया है।

तीन शादियां और कैंसर को दी मात
संजय दत्त का नाम वैसे तो कई एक्ट्रेसेस के साथ जुड़ा और खुद संजय दत्त ने कबूल किया था कि उनकी करीब 300 गर्लफ्रेंड्स तक रह चुकी थीं। संजय दत्त की पहली शादी 1987 में ऋचा शर्मा से हुई थी, जिससे बेटी त्रिशाला दत्ता का जन्म हुआ। लेकिन ब्रेन ट्यूमर की वजह से ऋचा ने 1996 में इस दुनिया को अलविदा कह दिया। इसके बाद संजय दत्त ने 1998 में रिया पिल्लई से शादी की लेकिन 2008 में दोनों अलग हो गए। फिर संजय का दिल मान्यता पर आया और साल 2008 में दोनों शादी के बंधन में बंध गए। अब संजय और मान्यता दो बच्चों के पेरेंट्स हैं। बता दें कि संजय दत्त ने कैंसर को भी मात दी है।

विलेन बनकर जीता दिल
संजय दत्त का नाम उन सितारों में शुमार रहा है, जिसने अपने करियर में काफी अलग अलग तरह के किरदारों से दर्शकों का दिल जीता और कभी भी स्टीरियोटाइप नहीं हुए। रौबदार अंदाज में बात करना हो या फिर लंबे बालों के साथ जबरदस्त बॉडी, संजय दत्त ने शुरुआती करियर में अपने स्वैग से दर्शकों से खूब वाहवाही लूटी। वहीं वो उन चुनिंदा सितारों में भी शामिल रहे, जो सिर्फ हीरो नहीं बल्कि विलेन बनकर भी दिल जीतने में कामयाब रहे। अग्निपथ का कांचा चीना, मुसाफिर का बिल्ला, पानीपत का अहमद शाह अब्दाली, शमशेरा का शुद्ध सिंह या फिर केजीएफ चैप्टर 2 का अधीरा… संजय ने ऐसे कई किरदारों में जान डालने का काम किया।

संजय दत्त का सिनेमाई करियर
सुनील दत्त और नर्गिस के बेटे संजय दत्त को सिनेमा में डेब्यू के लिए किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा और फिल्म रॉकी से उन्होंने डेब्यू किया। संजय दत्त ने अपने सिनेमाई करियर में कई हिट फिल्मों में काम किया, जिस में विधाता, नाम, थानेदार, सड़क, मुन्ना भाई सीरीज, वास्तव, रॉकी, कब्जा, साजन, सड़क, दाग द फायर, हसीना मान जाएगा, खलनायक, हथियार, मैं आवारा हूँ, जीवा, मेरा हक़, ईमानदार, इनाम दस हज़ार, जीते हैं शान से, मर्दों वाली बात, इलाका, हम भी इंसान हैं, कानून अपना अपना और ताकतवर सहित कई अन्य शामिल हैं।